सपा को विपक्ष में बैठकर काम करने का सबक

Posted On by & filed under विविधा

वस्‍तुत: पिछले कई चुनावों से सभी ने देखा है कि किस तरह यूपी में चुनाव आते ही मुस्‍लिम वोट बैंक की राजनीति शुरू हो जाती थी। लगता था कि सपा-बसपा, कांग्रेस में होड़ मची है यह बताने की कि कौन कितना बड़ा मुस्‍लिमों का पेरोकार है। भाजपा को छोड़कर इस बार भी हर बार की तरह ही यहां मुसलमानों को थोक में पार्टियों ने अपना प्रत्‍याशी बनाया, इस आशा में कि वह कमाल कर देंगे, जीतकर आएंगे और सरकार बनाने में अपना अहम रोल अदा करेंगे।

बेनकाब मायावती

Posted On by & filed under राजनीति

८ नवंबर की रात के बाद मोदी द्वारा नोटबन्दी किए जाने के बाद लगभग सभी विपक्षी दल विक्षिप्त हो गए। अब उन्होंने खुद ही प्रमाण देना शुरु कर दिया है कि उनकी यह दशा क्यों हुई। कल दिनांक २६ दिसंबर को प्रवर्तन निर्देशालय द्वारा जारी की गई सूचना में यह खुलासा हुआ है कि बसपा… Read more »

अपने ही चक्रव्यूह में फंसी बसपा

Posted On by & filed under राजनीति

सुरेश हिन्दुस्थानी वर्तमान में भारत देश की राजनीति दिशाहीन होती दिखाई दे रही है। बार-बार बदल रहे स्वार्थी लक्ष्यों के चलते राजनीतिक दलों के सामने केवल एक ही लक्ष्य रह गया है कि सत्ता कैसे प्राप्त की जाए। राजनेताओं के बारे में निम्न स्तर की बयानबाजी आज आम बात होती जा रही है। इस प्रकार… Read more »