मोहम्मद अली जिन्ना की चाल और महाराजा हरि सिंह की सूझबूझ