यह तो ‘शोकतंत्र’ है