विगत एक साल के कार्यकाल को ‘मोदी उवाच’ वर्ष नाम दिया जाना चाहिए