सत्यार्थप्रकाश

धार्मिक एवं सामाजिक साहित्य में सत्यार्थप्रकाश का अग्रणीय स्थान

–मनमोहन कुमार आर्य                संसार में धर्म व नैतिकता विषयक अनेक ग्रन्थ हैं जिनका अपना-अपना…

सत्यासत्य तथा धर्माधर्म से परिचित कराने वाला एकमात्र ग्रन्थ सत्यार्थप्रकाश है

-मनमोहन कुमार आर्य                मनुष्य के जीवन का उद्देश्य सत्य व असत्य को जानना तथा…

सनातन वैदिक धर्मियों के लिये राष्ट्र वन्दनीय है तथा सत्यार्थप्रकाश इसका पोषक है

-मनमोहन कुमार आर्य                संसार में मत–मतान्तर तो अनेक हैं परन्तु धर्म एक ही है।…

यदि सभी मनुष्य विवेकयुक्त होते तो वेद और सत्यार्थप्रकाश सर्वमान्य धर्मग्रन्थ होते

-मनमोहन कुमार आर्य                संसार में तीन अनादि सत्तायें वा पदार्थ हैं जो ईश्वर, जीव…

सत्यार्थप्रकाश अविद्या दूर कर मनुष्य को सच्चा विद्वान बनता है

–मनमोहन कुमार आर्य                 सत्यार्थप्रकाश आर्यसमाज के संस्थापक महर्षि दयानन्द सरस्वती जी का लिखा हुआ…

“ऋषि दयानन्द ने सभी मिथ्या आध्यात्मिक मान्यताओं एवं सभी सामाजिक बुराईयों का निवारण किया”

मनमोहन कुमार आर्य,  ऋषि दयानन्द सर्वांगीण व्यक्तित्व के धनी थे। आध्यात्मिक दृष्टि से उन्हें देखें…