सेवा कार्य ही ईश्वरीय कार्य : प्रो. संजय द्विवेदी