हरि व्यापक सर्वत्र समाना