हाथ पांव अपने हैं दिल दिमाग़ गिरवीं हैं…..