सचिन के साथ ध्यानचंद क्यों नहीं ?

Posted On by & filed under जरूर पढ़ें

-प्रवीण दुबे-     क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न से अलंकृत करके सरकार ने सराहनीय कार्य किया है, इससे किसी को कोई परेशानी नहीं है। लेकिन जिस प्रकार से इस देश में क्रिकेट को बढ़ावा मिल रहा है और उसकी  चकाचौंध में अन्य खेलों की अनदेखी सी हो रही… Read more »