सूर्योपासना का पर्व सूर्य षष्ठी

Posted On by & filed under पर्व - त्यौहार

अशोक “प्रवृद्ध” सातों द्वीपों एवं समुद्रों के विस्तार को तथा समस्त भूतल के अर्द्धभाग को और उसके बाहर के अन्य प्रदेशों को अपने प्रकाश से उद्भाषित करने वाले भगवान् सूर्य अपने प्रकाश को विश्व की अन्तिम सीमा तक फैलाते हैं । सूर्य सामान्यतः तीनों लोकों में शीघ्रतापूर्वक भ्रमण करते हैं । भुवनभास्कर भगवान् सूर्यनारायण को… Read more »