Judiciary

कुमार केतकर साहब “नमक का कर्ज़” उतारिये, लेकिन न्यायपालिका को बख्श दीजिये…

सुरेश चिपलूनकर संघ-भाजपा-हिन्दुत्व के कटु आलोचक, बड़बोले एवं “पवित्र परिवार” के अंधभक्त श्री कुमार केतकर