reporter Janrail Singh

‘जरनैलिज्म’ नहीं जर्नलिज्म

यह अघोरपंथी राजनीति का दौर है। या यूं कहें कि अघोरपंथी राजनीति पर भदेस किस्म की प्रतिक्रिया है। अघोरपंथ में सांसारिक बंधनों और लोक मर्यादाओं की परवाह नहीं की जाती। आज राजनीति भी…

पत्रकार जनरैल सिंह को मिलेगा 2 लाख रुपए के पुरस्कार

केंद्रीय गृहमंत्री पी. चिदम्बरम पर जूता फेंककर अपना आक्रोश व्‍यक्‍त करने वाले पत्रकार जनरैल सिंह दो लाख रुपए के पुरस्कार से सम्‍मानित होंगे। शिरोमणी अकाल दल ने जनरैल सिंह के…