मंदिर निर्माण : निधि समर्पण को तत्पर है देश

इस समय पूरे देश में भगवान राम के मंदिर निर्माण हेतु समर्पण निधि भेजने का उपक्रम चल रहा है | लगभग पाँच सौ वर्ष की संघर्ष यात्रा के पश्चात् अयोध्या में भगवान् श्री राम का भव्य एवं दिव्य मंदिर बनने जा रहा है | प्रत्येक आस्तिक व्यक्ति मंदिर निर्माण में सहयोग करने को तत्पर है | हिन्दू समाज की वर्षों पुरानी मनोकामना पूर्ण होने जा रही है | ऐसे में कुछ लोग जो मंदिर निर्माण के विरोधी रहे हैं वे आम जन के मन में संशय उत्पन्न करने वाले वक्तव्य दे रहे हैं | कुछ लोग चाहते हैं कि इस पवित्र अभियान को विवादित बना कर राजनीतिक लाभ प्राप्त किया जाए | अतः  प्रत्येक व्यक्ति को, जो इस अभियान से जुड़ना चाहता है, निधि समर्पण,मंदिर निर्माण एवं श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें जानना अवश्यक है –

मंदिर का निर्माण श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट करा रहा है | ट्रस्ट का गठन सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर भारत सरकार ने किया है | ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास जी महाराज हैं एवं सचिव श्री चम्पत राय जी हैं | चम्पत राय जी विश्वहिंदू परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी हैं |

ट्रस्ट ने निर्माण कार्य का दायित्व लार्सन टुब्रो कम्पनी को सौंपा है तथा इस कंपनी को परामर्श देने के लिए टाटा कंसल्टेंट इंजीनियर्स की सहायता ली जा रही है | इनके अतिरिक्त आईआईटी बंबई, आईआईटी दिल्ली,आईआईटी चेन्नई , आईआईटी गुवाहाटी ,केंद्रीय भवन अनुसंधान संस्थान रुड़की के भवन निर्माण में निपुण अभियंताओं का सहयोग लिया जा रहा है | मंदिर का वास्तु (नक्शा ) अहमदाबाद के चंद्रकान्त सोमपुरा जी ने तैयार किया है |

आप अपने मोबाइल से पे-टीएम,गूगल-पे और फोन-पे आदि द्वारा सीधे-सीधे ट्रस्ट के खाते में राशि भेज सकते हैं |  श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने  भारतीय स्टेट बैंक,पंजाब नेशनल बैंक एवं बैक ऑफ़ बड़ोदा में विशेष खाते खुलवाये हैं | आप इनमें चैक द्वारा,एनईएफटी या फंड ट्रांसफर कर के ट्रस्ट के खाते में समर्पण निधि जमा करा सकते हैं | इसके अतिरिक्त संघ एवं विश्व हिन्दू परिषद  के कार्यकर्ता घर-घर जाकर समर्पण निधि एकत्रित कर कर रहे हैं उन्हें ट्रस्ट द्वारा दी गई रसीदों के माध्यम से भी समर्पण राशि दे सकते हैं | निधि समर्पण अभियान मकर संक्रांति से माघ पूर्णिमा तक चलाया जाएगा |

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट समर्पण निधि एकत्रित करने में संघ और विश्व हिन्दू परिषद की सहायता ले रहा है | सभी प्रकार की रसीदें ट्रस्ट द्वारा ही उपलब्ध कराई गई हैं | समर्पण राशि केवल ट्रस्ट द्वारा उपलब्ध कराये गए कूपन और रसीदों के मध्यम से ही एकत्रित की जा रही है | यह राशि सीधे ट्रस्ट के पास ही भेजी जाएगी |

ट्रस्ट चाहता है कि राम मंदिर निर्माण में सम्पूर्ण देश की सहभागिता हो इसके लिए प्रत्येक नगर,गाँव,मोहल्ले तक जाने वाले कार्यकर्ताओं की आवश्यकता है | संघ,विश्व हिन्दू परिषद एवं अन्य राम भक्त जो पिछले कई दशकों से राम जन्मभूमि के लिए अपने प्राण-प्रण से जुटे हैं ट्रस्ट उन्हीं संगठनों से समर्पण राशि एकत्रित करने में सहयोग ले रहा  है | साथ ही ट्रस्ट चाहता है कि देश की नई पीढ़ी भगवान् राम के आदर्शों और गुणों से परिचित हो | समर्पण निधि देने वाले को यह भी पता होना चाहिए कि कितने संघर्षों,बलिदानों और प्रमाणों की प्रस्तुति के पश्चात मंदिर निर्माण होने जा रहा है | निधि समर्पण के साथ-साथ अपनी संस्कृति और धर्म के प्रति भाव जागरण कराने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है |  कोई भी संगठन या व्यक्ति विश्व हिन्दू परिषद आदि से संपर्क किया बिना भी सीधे-सीधे ट्रस्ट के नाम राशि व अपना सन्देश भेज सकता है |

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अपनी वेब साईट पर ट्रस्ट एवं निधि समर्पण से सम्बंधित जानकारी उपलब्ध करा दी है | यह स्वैच्छिक समर्पण है जिसकी जितनी श्रद्धा हो करे, चाहे जिस मध्यम (बैंक,ऑनलाइन या रसीद द्वारा ) से करे | देश के प्रत्येक राम भक्त का  कर्तव्य है कि वह निधि समर्पण एवं मंदिर निर्माण के विषय में प्रामाणिक व्यक्तियों एवं माध्यमों से ही जुड़े | यह कोई राजनीतिक अभियान नहीं  है अतः इसे धार्मिक एवं सांस्कृतिक अनुष्ठान मानकर ही जुड़ें | भगवान राम सबके हैं इसीलिये सभी जनों की सहभागिता का प्रयास किया जा रहा है

डॉ.रामकिशोर उपाध्याय

Leave a Reply

28 queries in 0.349
%d bloggers like this: