देश में रोजगार की समस्या क्यों ?

गाँव खाली हो रहे,सब शहरों की तरफ ही भाग रहे |
खेती-बाड़ी छोड़ कर,कारखानों की तरफ भाग रहे ||

हलधर हल नहीं चला रहे,ट्रेक्टर वे सब चला रहे |
बुआई से कटाई तक,सब मशीनों से काम हो रहे ||

आबादी बढती जा रही,इस पर नियन्त्रण न हो रहे |
कब तक भार भू सहेगी,ये प्रश्न उभर कर आ रहे || 

मशीनीकृत सब चीजे हो गयी,लोग खाली घूम रहे |
हजारो व्यक्तियों का काम,कुछ व्यक्ति ही कर रहे ||

जरूरते सब की बढ़ गयी,सब के खर्चे ज्यादा हो रहे |
सयुक्त परिवार की जगह,एकल परिवार अब हो रहे ||

फिर पूछते हो तुम,रोजगार के अवसर क्यों कम हो रहे ? 
पुरानी परम्पराओ को छोड़ कर,अब सब नई अपना रहे ||

आर के रस्तोगी
मो 9971006425  

Leave a Reply

%d bloggers like this: