हां मैं उत्तम प्रदेश-उत्तर प्रदेश हूं

0
743

    डॉ पंकज कुमार

हां मैं उत्तम प्रदेश-उत्तर प्रदेश हूं
मैं त्रेता में श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या हूं
द्वापर में श्रीकृष्ण की तपोभूमि मथुरा हूं।।

मैं बाबा विश्वनाथ की काशी हूं
और तीर्थराज प्रयागराज हूं
सप्तपुरियों में अयोध्या, काशी और मथुरा हूं
सात अजूबों में आगरा का ताजमहल‌ हूं ।।

उत्तर में हिमालय दक्षिण में विंध्य हूं
मध्य गंगा यमुना शस्य श्यामला हूं।।
यूनेस्को के वर्ल्ड हेरिटेज का सूची में
फतेहपुर सीकरी हूं।।

मैं जीवाश्म फॉसिल्स पार्क सोनभद्र हूं
पुरा पाषाणिक अस्थिनिर्मित स्त्री बेलन घाटी हूं।।
मैं महदहा, दमदमा हूं
तो नव पाषाणिक चावल साक्ष्य कोलडिहवा
हूं।।

मैं हड़प्पा का पूर्वी छोर आलमगीरपुर हूं
तो उत्तर वैदिक काल का आर्यावर्त हूं।।
मैं लौह काल का अतरंजीखेड़ा एटा हूं
तो ताम्र पाषाणिक नरहन हूं।।

मैं बुद्ध का प्रथम उपदेश स्थली सारनाथ हूं,
तो महापरिनिर्वाण‌ कुशीनारा हूं।।
मैं अशोक स्तंभ,सिंह चतुर्मुख राजकीय चिन्ह सारनाथ हूं,
तो नेपोलियन समुद्र गुप्त का प्रयाग प्रशस्ति हूं।।

मैं देवगढ़ का दशावतार मंदिर हूं
तो पूर्वमध्यकालीन केंद्र कन्नौज हूं।।
हां मैं उत्तम प्रदेश-उत्तर प्रदेश हूं

मैं रामानंद का वैष्णववाद हूं
तो कबीर के मगहर का सर्वधर्म एकात्मवाद हूं
साहित्य में तुलसी,सूर,कबीर की भूमि हूं
तो हिंदी साहित्य में प्रेमचंद,पंत निराला हूं
उर्दू में फिराक गोरखपुरी,जोश मलीहाबादी हूं
हां मैं उत्तम प्रदेश-उत्तर प्रदेश हूं।।

मैं जौनपुर का शर्की ‘भारत का सिराज’ हूं
तो अकबर निर्मित आगरा किला,फतेहपुर सीकरी हूं
शाहजहां के प्रेम का ताजमहल पैगाम हूं।।

मैं बंगाल प्रेसीडेंसी,अवध से भी विख्यात हूं
नॉर्थवेस्ट प्रोविंस ” से बदलकर “संयुक्त प्रांत” हूं
मैं मेरठ की सन सत्तावन की क्रांति हूं
मैं चौरी चौरा भी हूं
महामना,पुरुषोत्तम टंडन का राष्ट्रवाद का नायक हूं।।
राज्यपाल सरोजिनी तो सीएम थे जीबी
साल 1950 में मेरा “उत्तर प्रदेश” हुआ उदय
मैं ही गढ़वाल,कुमाऊँ उत्तराखंड हूँ।।

मैं मलीहाबादी आम,अमरूद खुसरोबाग और आंवला
प्रतापगढ़ी हूं
तो कालीन भदोही, लखनवी चिकन चूड़ी‌ फिरोजाबादी हूं
हां मैं देश के प्रगति पथ पर अग्रसर
उत्तम प्रदेश-उत्तर प्रदेश हूं।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here