गोमूत्र और हमारा स्वास्थ्य

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

राकेश कुमार आर्य भारत में गोमूत्र को औषधीय रूप में लेने की परंपरा बहुत प्राचीन है। हमारी चिकित्सा प्रणाली और आयुर्वेद एलोपैथिक चिकित्सा प्रणाली की भांति रोग से लड़ता नही है, अपितु रोग को मिटाता है। इसलिए जैसे शोक के समूल नाश के लिए योग की खोज की गयी वैसे ही हमारे ऋषि पूर्वजों ने… Read more »

इलाज में लापरवाही का दण्ड

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

प्रमोद भार्गव देश के चिकित्सालयों और चिकित्सकों के लिए यह स्पष्‍ट संदेश है कि वे अब रोगियों के साथ लापरवाही न बरतें, अन्यथा उन्हें भारी दण्ड की सजा भुगतनी पड़ सकती है। सर्वोच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति सीके प्रसाद और वी. गोपाल गौड़ा की पीठ ने इसी आष्य का अनूठा फैसला सुनाया है। हालांकि हमारी न्याय… Read more »

द्वि ध्रुवीय विकार (Bipolar disorder)-

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

(इस विकार के लियें पूरे लेख मे BD का प्रयोग किया जायेगा) इस विकार को उन्माद-अवसाद विकार (manic-depressive illness) भी कहते हैं। यह मस्तिष्क से संबधित ऐसा विकार है जिसमे पीड़ित व्यक्ति की मनोदशा मे (mood) लगातार बदलाव आते रहते हैं।ये जीवन के सामान्य उतार चढ़ाव नहीं होते, इसकी वजह से व्यक्ति की रोज़ के… Read more »

स्वास्थ्य : अनुभव के मोती

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

  अनुभव के मोती जुकाम और फ्लू के कारण लगभग सभी को कभी न कभी परेशानि भुगतनी पड़ती है. कहा जाता है की इन्हें ठीक होने में ५-७ दिन तो लग ही जाते हैं. पर देसी उपायों से केवल एक दिन में भी इनसे छुटकारा पाया जा सकता है.  जुकाम कोने पर दही को फेंट… Read more »

ध्यान की कमी अति सक्रियता विकार

Posted On by & filed under जन-जागरण, स्‍वास्‍थ्‍य-योग

attention deficit hyperactivity disorder (ADHD) (ध्यान की कमी  अति सक्रियता विकार के लियें पूरे लेख मे ADHD का प्रयोग किया जायेगा ) यह विकार काफ़ी बच्चों मे होता है , जोकि बड़े होने तक भी बना रहता है।यह मस्तिष्क का विकार है मस्तिष्क की इमजिंग करने पर पता चला है कि मस्तिष्क का विकास औसतन… Read more »

औटिज़्म

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

  औटिज़्म एक ऐसा विकार है जो बच्चों मे सीखने मे  दिक़्कते (learning disabilities) पैदा करता है और कभी कभी उन्हे मन्दबुद्धि मान लिया जाता है। औटिज़म  एक स्नायु से संबधित विकार है जो व्यापक रूप से बढ़ते हुए बच्चों की सीखने की प्रक्रिया मे बाधक होता है। यह लेख लिखने का  उद्देश्य केवल इस विकार… Read more »

नरक के द्वार खोलता है दवा परीक्षण

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

संदर्भ :- ड्रग टायल पर स्वास्थ्य अधिकार मंच की जनहित याचिका पर सुप्रीम कोर्ट की तल्ख टिप्पणी प्रमोद भार्गव जिस मनुष्य पर दवा परीक्षण किया जाता है उसके लिए तिल-तिल मरने के द्वार खोल देता है, यह ड्रग टायल ! लेकिन विडंबना देखिए की यही स्थिति दवा परीक्षण कराने वाली कंपनियों और चिकित्सकों को मुनाफे… Read more »

हम नशीले पदार्थों का इस्तेमाल क्यों करते हैं?

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

गंगानन्‍द झा यह बड़ा कौतुहलपूर्ण सवाल है कि जानते हुए भी कि मादक द्रव्यों के सेवन से हानि होती है, हम क्यों स्वेच्छा से, बल्कि व्यग्रता से इनका सेवन करते हैं। आदिम कबीलों से अत्याधुनिक समाजों तक में विभिन्न प्रकार के आत्मघाती शराब, तम्बाकू, कोकैन इत्यादि मादक द्रव्‍यों होता रहा है। कहा जा सकता है… Read more »

लंग कैंसर

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

सैकंड हैंड स्मोक महिलाओं के लिए खतरे की घंटी पहले सिग्रेट व उससे होने वाले लंग कैंसर का नाम सुनकर लोग उसे पुरुषों से संबंधित मानते थे. लेकिन पुरूषों की बीमारी समझे जाने वाला लंग कैंसर अब पुरूषों तक ही नहीं बल्कि महिलाओं के समीप पहुंच गया है. इसके बारे में नई दिल्ली के पूसा… Read more »

अनजान बीमारी की चपेट में बिहार

Posted On by & filed under स्‍वास्‍थ्‍य-योग

रजनी गुप्ता  बिहार में एक बार फिर दिमागी बुखार जैसी एक बीमारी ने अपना क़हर ढ़ा रखा है। चिंता की बात यह है कि इसकी चपेट में छोटे छोटे मासूम बच्चे ही आते हैं। बीमारी का सबसे अधिक प्रभाव राज्य के दो बड़े शहर मुज़फ्फरपुर और उसके आसपास के क्षेत्र तथा गया में देखने को… Read more »