लेखक परिचय

कुमार सुशांत

कुमार सुशांत

भागलपुर, बिहार से शिक्षा-दीक्षा, दिल्ली में MASSCO MEDIA INSTITUTE से जर्नलिज्म, CNEB न्यूज़ चैनल में बतौर पत्रकार करियर की शुरुआत, बाद में चौथी दुनिया (दिल्ली), कैनविज टाइम्स, श्री टाइम्स के उत्तर प्रदेश संस्करण में कार्य का अनुभव हासिल किया। वर्तमान में सिटी टाइम्स (दैनिक) के दिल्ली एडिशन में स्थानीय संपादक हैं और प्रवक्ता.कॉम में सलाहकार-सम्पादक हैं.

Posted On by &filed under चुनाव, राजनीति.


-कुमार सुशांत-

pak

बड़ी पुरानी कहावत हैः घर की बात बाहर नहीं जानी चाहिए। यह इसलिए बताना पड़ रहा है, क्योंकि पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान हिन्दुस्तान में चुनावी गतिविधियों की पल-पल की खबर रख रहा है। देखना हो तो आप पाकिस्तान की सबसे मशहूर वेबसाइट- ‘द डॉन’ के पेज पर जाइए। उस वेबसाइट पर आपके (हिन्दुस्तान के) चुनाव की हर गतिविधियों पर करीबी नज़र रखी जा रही है, उसे प्रकाशित की जा रही है। चाहे प्रियंका गांधी वरुण गांधी पर हमला बोलें या संजय बारू की किताब में मनमोहन सिंह नपे हों, पूरे आलोचनाओं को व्यंग्यात्मक भाव में उसे पाकिस्तानियों के बीच परोसा जा रहा है। वहां के मशहूर टीवी चैनल जिओ टीवी पर हर दिन इस पर बहस छिड़ती है। आपके राजनैतिक व्यवस्था का मखौल उड़ाया जाता है।

ऐसा नहीं कि दुनिया में अभी संकट नहीं है। यूक्रेन की समस्या है, अमेरिका, रूस, चीन जैसे देशों की अपनी-अपनी गंभीर समस्याएं हैं। खुद पाकिस्तान में मुशर्रफ के अलावा गंभीर राजनैतिक संकट का माहौल है। फिर अगर द डॉन की वेबसाइट पर मोस्ट पोपुलर आठ में से चार खबरें भारत के चुनाव पर व्यंग्यात्मक हो तो इसे आप क्या कहेंगे। इतना ही नहीं, पाकिस्तान ने अपनी वेबसाइट पर लोगों से राय मांगना शुरू कर दिया है। अंग्रेजी में लिखा है- Do you think a BJP-backed government will help strengthen India-Pakistan trade relations? (क्या आपको लगता है कि भारत में बीजेपी की सरकार भारत-पाकिस्तान रिश्ते को मजबूती दे पाएगी ?)। इसका जवाब पाकिस्तानियों से ‘हां’ या ‘ना’ में मांगा जा रहा है। इस कॉलम के ठीक ऊपर एक कॉमल है, जिसमें एक्सप्लोर इंडियन इलेक्शन2014 और फिर इंडिया का तिरंगा लगा है। आश्चर्य तब होता है जब द डॉन के होमपेज पर जाएंगे तो वहां भी गो-इन-डेप्थ इंडियन इलेक्शन-2014 और नीचे उसी तरह भारत का तिरंगा लगा हुआ है। सवाल है कि पाकिस्तान के द डॉन वेबसाइट के अगर होमपेज पर भारतीय चुनाव के मुतल्लिक इन-डेप्थ (गहराई तक) जानकारी दी जा रही है तो इसका मतलब क्या है। खैर, अगर वेबसाइट पर इन-डेप्थ कंटेंट पर आप जाएंगे तो भारत की गतिविधियों, आलोचनाओं के लिए एक खास पेज बनाया गया है जिसमें ऐसे-ऐसे कटाक्ष किए गए हैं, सोशल मीडिया के ऐसे पेज बनवाए गए हैं कि आप हैरत में पड़ जाएंगे।

आपको याद होगा, हाल में जसवंत सिंह के टिकट को लेकर भाजपा के अंदर राजनीति गरमाई थी। जान लीजिए उस दिन क्या हेडिंग लगी थी उस वेबसाइट पर – म्यूजिक चीयर्स, जसवंत सिंह टू फाइट ऑन। यानी इधर गंभीर मामला उठा तो उधर खुशियां मनने लगीं। खासकर अगर भाजपा में फूट हो, भाजपा के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी की बात हो तो पाकिस्तान एक पल भी मौका गंवाना नहीं चाहता, तुरंत वेबसाइट पर पोस्ट्स करवाता है। कमेंट्स मंगवाता है, सोशल मीडिया पर एक्सप्लोर कर ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाता है। मतलब साफ है कि आपके लोकतांत्रिक महापर्व पर पाकिस्तान की घिनौनी नजर है। वो उसे हर हाल में प्रभावित करना चाहता है। इसलिए नेताओं से आग्रह है कि जब घर की बात बाहर जाने लगे तो कुछ सावधानियां जरूर बरतें। या तो आप धीमा बोलें, अगर उससे भी न हो और आपकी धीमी बात को मीडिया साउंडबॉक्स लगाकर तेज कर दूर पहुंचा दे रहा हो तो कम से कम आप ही (राजनेता) सुधर जाएं। आप लोकतंत्र के पहरेदार हैं। अपने घर में कैसे बात करनी है, बस इसी की तहजीब सीख लें।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz