लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under चुनाव.


georgeगत 3 अप्रैल को बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतिश कुमार ने कहा कि पार्टी के निर्णय का उल्लंघन कर निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ने के निर्णय के कारण वरिष्‍ठ समाजवादी नेता जॉर्ज फर्नांडिस अपने आप पार्टी से बाहर हो गए हैं।नीतीश कुमार ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, नीतीश कुमार ने कहा, “जो लोग पार्टी के निर्णय के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं, जदयू का उनसे कोई रिश्ता नहीं है।” “फर्नाडीज द्वारा निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ने का निर्णय लिए जाने के बाद अब वह पार्टी में नहीं रह गए हैं। पार्टी का उनसे कुछ भी लेना-देना नहीं है।”

हाल ही में जनता दल (यू) के अध्यक्ष शरद यादव ने जॉर्ज को चिट्ठी लिखकर उनकी सेहत का हवाला देते हुए उनसे लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का आग्रह किया। साथ ही पेशकश की गई थी कि आप पार्टी के टिकट पर राज्यसभा में चले जाएं। शरद यादव की इस चिट्ठी का जवाब जॉर्ज ने भी चिट्ठी लिखकर दिया। जॉर्ज मुज्जफरपुर से लोकसभा चुनाव लड़ने की जिद पर अड़े हुए हैं। इस चिट्ठी के मुताबिक जॉर्ज हमेशा जमीनी संघर्ष से जुड़े रहे हैं। ऐसे में उन्हें लोकसभा चुनाव न लड़कर राज्यसभा सदस्‍य बनना कतई मंजूर नहीं है।

देश के सबसे बडे समाजवादी शख्सियत को आज लोकसभा चुनाव लडने के लिए संघर्ष करना पड रहा है। ध्‍यातव्‍य हो कि ट्रेड यूनियन आंदोलन के नेता व पूर्व केन्‍द्रीय रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस को जनता दल (यू) ने लोकसभा चुनाव में उम्‍मीदवार बनाने से इनकार कर दिया है और उनकी जगह पर मुजफ्फरपुर से कैप्‍टन जयनारायण निषाद को पार्टी का प्रत्‍याशी घोषित किया है। इसी बीच फर्नाडीज ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मुजफ्फरपुर से चुनाव लड़ने का निर्णय किया है। फर्नान्डिस की घोषणा से मुजफ्फरपुर से जनता दल (यू) के आधिकारिक उम्मीदवार जयप्रकाश निषाद के खिलाफ पार्टी में विद्रोह हो गया है। जबकि जदयू की सहयोगी पार्टी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं ने उनका समर्थन न करने की घोषणा कर दी है।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz