बाइबल की संकीर्णता और अंग्रेज़ की आक्रामकता

Posted On by & filed under विविधा

-डॉ. मधुसूदन-    प्रवेश (अनुरोध: आलेख धीरे-धीरे आत्मसात कर के पढ़ें) **अंग्रेज़ों ने रामायण और महाभारत इतिहास नहीं, पर महाकाव्य माने। क्यों? **वेदों का भी मात्र १०००-१५०० ईसा पूर्व ही, माना। क्यों? **उपनिषदों को भी ईसा पूर्व ३००-४०० वर्ष पूर्व ही माना। क्यों **ऐसे अनेक प्रश्नों के आंशिक या पूर्ण उत्तर आप को इस आलेख… Read more »