गजानन माधव मुक्तिबोध के जन्मदिन (13 नवम्बर) पर विशेष

Posted On by & filed under राजनीति, साहित्‍य

दिल्लीवासी हिन्दी लेखक आज मुक्तिबोध का जन्मदिन है। इस मौके पर उनके बहाने हम बहुत कुछ नया सीख और समझ सकते हैं। पहली बात यह कि हिन्दी में साहित्यकारों की जो दशा है और खासकर दिल्ली केन्द्रित बड़े लेखकों की जो दशा है उस पर मुक्तिबोध की 54 साल की गई टिप्पणी एकदम सटीक बैठती… Read more »