क्या वीआईपी की गाड़ी प्रदूषण नहीं फैलाती

0
194

oddसही पकड़े है।

क्या वीआईपी की गाड़ी प्रदूषण नहीं फैलाती, सबसे ज़्यादा प्रदूषण तो अति
-विशिष्ट बिरादरी ही फैलाती है जी ! जीजा जी से ज्यादा कौन जानता है !
उनसे ज़्यादा वीआईपी के मज़े किसने लुटे हैं जी ! जीजा जी ! बोले तो !
रॉबर्ट जी वाड्रा ने फ़रमाया है कि आड -इवन के ढोंग में वर्जित के बराबर
छूट की लम्बी सूची है।

हवा में भी हवा बाज़ी! अरे भाई रोक लगानी है तो सब पर लगाओ। यह भी कोई बात
हुई ? वीआईपीज़ तो सरपट गाड़िया दौड़ाएं दिल्ली की सड़कों पर और उन जैसा आम
आदमी एक दिन अपना ‘काम काज़ ‘ निपटने को ताकता रहे या फिर साला साहेब या
सासू माँ गाडी के जुगाड़ से जूझे ?

इसे ही तो कहते हैं ‘असहिषुणता ‘ पॉलिटिक्स आफ रिवेंज। हमारे सिंह साहेब
की सदारत में हमें किसी ने नहीं रोक कहीं भी ‘आने जाने ‘ से। किसी ने
हमारे सामान की ‘लोडिंग ‘ जांच तक नहीं की कभी। सिंह साहेब ने तो हमारे
जैसे ‘आम’ आदमी का नाम ही लिखवा दिया था वी वी आई पीज़ की सूची में, हमारी
सासू माँ की सासू माँ ‘नामित’ एयर पोर्ट पर। सबसे बड़े वी वी आई पी,
महामहिम, का नाम सबसे ऊपर और हमारे जैसे आम वी वी आई पी का नाम सबसे
नीचे।

क्या ज़माना आ गया ! जिनका कभी विदेश यात्रा से पूर्व कभी सामान तक नहीं
चेक किया गया था, आज उनकी गाड्डी का नंबर चेक किया जाएगा। बहुत बे-इंसाफी
है जी !

Previous articleसूखा राहत में स्वराज की मांग
Next articleलाहौर: मोदी का जबर्दस्त जुआ
अर्से से पत्रकारिता से स्वतंत्र पत्रकार के रूप में जुड़ा रहा हूँ … हिंदी व् पत्रकारिता में स्नातकोत्तर किया है । सरकारी सेवा से अवकाश के बाद अनेक वेबसाईट्स के लिए विभिन्न विषयों पर ब्लॉग लेखन … मुख्यत व्यंग ,राजनीतिक ,समाजिक , धार्मिक व् पौराणिक . बेबाक ! … जो है सो है … सत्य -तथ्य से इतर कुछ भी नहीं .... अंतर्मन की आवाज़ को निर्भीक अभिव्यक्ति सत्य पर निजी विचारों और पारम्परिक सामाजिक कुंठाओं के लिए कोई स्थान नहीं .... उस सुदूर आकाश में उड़ रहे … बाज़ … की मानिंद जो एक निश्चित ऊंचाई पर बिना पंख हिलाए … उस बुलंदी पर है …स्थितप्रज्ञ … उतिष्ठकौन्तेय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *

13,739 Spam Comments Blocked so far by Spam Free Wordpress