अनिल जोशी

कवि, लेखक, संपादक और कुशल संगठक अनिल जी साहित्‍य, समाज, संस्‍कृति, कला और मीडिया के क्षेत्र में अपने विशिष्‍ट योगदान के लिए जाने जाते हैं। वैश्विक क्षितिज पर हिंदी की पताका को लहराने के लिए आप कई वर्षों से 'अंतरराष्‍ट्रीय हिंदी उत्‍सव' का आयोजन कर रहे हैं। इसके साथ ही आप हिंदी और अंग्रेजी में प्रकाशित एक त्रैमासिक पत्रिका 'प्रवासी टुडे' के संरक्षक हैं और दो प्रमुख वेबसाइट्स http://pravasitoday.com और http://hindi.pravasitoday.com का संचालन कर रहे हैं।
17 queries in 0.333