रोहित श्रीवास्तव

रोहित श्रीवास्तव एक कवि, लेखक, व्यंगकार के साथ मे अध्यापक भी है। पूर्व मे वह वरिष्ठ आईएएस अधिकारी के निजी सहायक के तौर पर कार्य कर चुके है। वह बहुराष्ट्रीय कंपनी मे पूर्व प्रबंधकारिणी सहायक के पद पर भी कार्यरत थे। वर्तमान के ज्वलंत एवं अहम मुद्दो पर लिखना पसंद करते है। राजनीति के विषयों मे अपनी ख़ासी रूचि के साथ वह व्यंगकार और टिपण्णीकार भी है।

“मासूमो की मौत पर तांडव करते आतंकवादी ‘इस्लाम’ के अनुयायी नहीं हो सकते?”

गुजरात पुलिस के द्वारा आतंकवादियो से निपटने के लिए किए गए ‘ऐंटि-टेरर मॉक-ड्रिल’ मे ‘डमी-आंतकवादियों’…