श्याम सुंदर भाटिया

लेखक सीनियर जर्नलिस्ट हैं। रिसर्च स्कॉलर हैं। दो बार यूपी सरकार से मान्यता प्राप्त हैं। हिंदी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठित करने में उल्लेखनीय योगदान और पत्रकारिता में रचनात्मक भूमिका निभाने के लिए बापू की 150वीं जयंती वर्ष पर मॉरिशस में पत्रकार भूषण सम्मान से अलंकृत किए जा चुके हैं।

हिंदी पत्रकारिता के कोहिनूर : गणेश शंकर विद्यार्थी

श्याम सुंदर भाटिया ‘हम न्याय में राजा और प्रजा दोनों का साथ देंगे, परन्तु अन्याय में दोनों में से किसी...

सियासी पिच पर इमरान क्लीन बोल्ड

● श्याम सुंदर भाटियानए पाकिस्तान बनाने का ख़्वाब दिखाकर सत्ता में काबिज हुए दिग्गज क्रिकेटर इमरान खान नियाजी हर मोर्चे...

पेंडुलम की मानिंद नेपाली डेमोक्रेसी

●      श्याम सुंदर भाटिया दुनिया में मानवीय हक-हकुकों के लिए लोकतांत्रिक प्रणाली मुफीद मानी जाती है। अमेरिका से लेकर हिंदुस्तान...

एक संत का अतुलनीय शिक्षा प्रेम

श्याम सुंदर भाटिया दुनिया के किसी भी बेमिसाल कर्मयोगी के लिए बहुप्रतिभा के धनी, दूरदर्शी, दृढ़संकल्पित, पारदर्शी, मैत्रीपूर्ण स्वभाव, राष्ट्रभक्ति,...

17 queries in 0.363