लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़, राजनीति.


नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद श्री प्रभात झा ने मंहगाई के खिलाफ ध्यानाकर्षण के निराले प्रयास में राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से उन्हें ‘इच्छा-मृत्यु‘ की अनुमति प्रदान करने की याचना की है। झा ने कहा है कि सांसद होने के नाते उनमें आम जनता को महंगाई की मार खाते देखने की और शक्ति नहीं बची है।

पार्टी के राष्ट्रीय मुखपत्र ‘कमल संदेश’ के प्रधान सम्पादक श्री झा ने राष्ट्रपति को लिखे पत्र में कहा है, ‘‘मैं संसद के उच्च सदन का सदस्य हूं। आम आदमी की तरह मुझे महंगाई से तो तकलीफ नहीं हो रही है पर राज्यसभा में बैठकर अगर मैं भारत के 100 करोड़ से अधिक लोगों की जिंदगी की चिंता ना करूं तो मेरा सदन में बैठना निरर्थक है।”

इच्छा-मृत्यु के अपने निर्णय से स्वयं के परिवार और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को अवगत करा चुकने की जानकारी देते हुए उन्होंने राष्ट्रपति से कहा, ‘‘आपसे विनम्र निवेदन कर रहा हूं कि कांग्रेस-नीत संप्रग सरकार की ओर से महंगाई को मौत का पर्याय बनाने पर विराम लगाने के लिए मुझे यथाशीघ्र इच्छा-मृत्यु की अनुमति प्रदान करें।”

मीडिया में प्रसारित अपने इस पत्र में उन्होंने यह दावा भी किया, ‘‘मेरा यह पत्र प्रसिद्धि पाने के लिए नहीं है, बल्कि यह मेरी वेदना का प्रकटीकरण है। मैं जो कुछ लिख रहा हूं वह ना भावनात्मक है ना प्रचार पाने लिए।”

झा ने राष्ट्रपति को लिखे अपने इस पत्र की प्रतियां उच्चतम न्यायायल के मुख्य न्ययाधीश, भाजपा अध्यक्ष नितिन गडकरी और संसद के दोनों सदनों के विपक्ष के नेताओं को भी प्रेषित की हैं।

8 Responses to “महंगाई के मुद्दे पर भाजपा सांसद ने मांगी इच्छा-मृत्यु”

  1. rakesh kumar

    ये सब मीडिया मैं आने की चाल है .बीजेपी ने भी ५ साल शाशन किया ही है .

    Reply
  2. AJAY

    JHA SAHIB, SACHI SACHI BATANA, PARLIAMENT KI CANTEEN MAI KITNI BAR खाना खाया HAI AUR BJP JAB POWER MAI RAHI TO ? KIYA HAI ………………

    Reply
  3. AJAY

    PARBHAT JI,

    WHEN BJP WAS इन POWER ? THAN WHERE WAS YOU ? WAS YOU WITH RES LATE SHREE परमोद MAHAJAN ?
    WHY अरे YOU दोंग थाट्स TYPE S OF ACTIVITIES THAN YO U अरे नोट इन POWER ? WHEN YOU WAS इन POWER THAN WHY YOU DID नोट TAKE एनी स्टेप्स ? JAI HO APKI ????????????????????????????

    Reply
  4. Ram narayan suthar

    आत्महनन का विचार कभी कर्मयोगी नहीं कर सकता क्या इछामर्त्यु से महंगाई का मुद्दा हल हो जायेगा ………………………………….

    Reply
  5. MOHAN LAL YADAV

    झा साहब यदि आपकी मांग मंजूर हो गई तो ………………………….? आज देश मैं जो हालात, परिस्थतियाँ है उनसे निपटने के लिए आप कोई ऐसी पहल करते जो मील का पत्थर साबित हो सकता था. आपके म.प्र. में ही कितना गहुँ बारिश में भीग रहा है, इस समस्या के बारे में आप अपने पद का उचित उपयोग करते तो शायद वो महंगाई रोकने की दिशा में एक ठोस कदम होता.

    Reply
  6. Rajeev singh

    आपके जैसा सब सोचने लगे तो हमारी सारी तकलीफ दूर होने से कोई नहीं रोक सकता ऐ कॉग्रेस सरकार हम गरीबो का खून पि रहा है इसको आत्म दाह करना चाहिए

    Reply
  7. AJAY GOYAL

    PARBHAT JI, KUCH MANGNAI PAR MILTA NAHI HAI, USAI PAYA JATA HAI ! APP KYO DRAMA KAR RAHE HO ? APP KO PATA HAI KI IJAJAT MILEGI NAHI …………………..

    PHIR ? DRAMAI KARTAI HO ………………

    APP JAISE SAJAN PURUSH SIRF NAME KAMANA CHAHTAI HO ? AB APP KO KAHAI KI MAR JAO THAN APP “UKSANE” KA CASE KARVA DOGO ………………

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *