धर्म-अध्यात्म

ऋषि दयानन्द की एक प्रमुख देन सृष्टि का प्रवाह से अनादि होने का सिद्धान्त

-मनमोहन कुमार आर्यऋषि दयानन्द ने देश और संसार को अनेक सत्य सिद्धान्त व मान्यतायें प्रदान की है। उन्होंने ही अज्ञान...

सत्य सनातन वैदिक सिद्धान्तों के प्रभावशाली प्रचारक थे कीर्तिशेष प्रा. अनूप सिंह

आज 20वीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि -मनमोहन कुमार आर्य                 आज आर्य विद्वान कीर्तिशेष श्री अनूप सिंह जी की 20वीं पुण्य...

वेदों ने हमें महान पुरुष ऋषि-मुनि और राम, कृष्ण, दयानन्द मिले

-मनमोहन कुमार आर्यमनुष्य का निर्माण माता-पिता के पालन पोषण सहित उनके द्वारा दिये जाने वाले संस्कारों से होता है। माता-पिता...

वैदिक धर्म के अनन्य प्रेमी एवं ऋषि भक्त श्री शिवनाथ आर्य

आज 20वीं पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि--मनमोहन कुमार आर्य, देहरादून।श्री शिवनाथ आर्य हमारी युवावस्था के दिनों के निकटस्थ मित्र थे। उनसे...

मनुष्य की चहुंमुखी उन्नति का आधार अविद्या की निवृत्ति और विद्या की वृद्धि

-मनमोहन कुमार आर्यमनुष्य के जीवन के दो यथार्थ हैं पहला कि उसका जन्म हुआ है और दूसरा कि उसकी मृत्यु...

यज्ञ एवं दान आदि से जीवन पवित्र करने वाले ऋषि भक्त यशस्वी दर्शनकुमार अग्निहोत्री

-मनमोहन कुमार आर्यदेश में ऋषि दयानन्द के अनेक अनुयायी हुए हैं जिन्होंने अपने जीवन एवं कार्यों से अनेक आदर्श प्रस्तुत...

सद्धर्म वेद की रक्षा एवं अविद्या दूर करना आर्यसमाज का मुख्य उद्देश्य

-मनमोहन कुमार आर्य       ऋषि दयानन्द इतिहास में सत्य के आग्रही अनुपमेय महापुरुष थे। उन्होंने अपने जीवन में सत्य को...

ऋषि दयानन्द वेदज्ञान द्वारा सब मनुष्यों को परमात्मा से मिलाना चाहते थे

मनमोहन कुमार आर्यमहाभारत के बाद ऋषि दयानन्द ने भारत ही नहीं अपितु विश्व के इतिहास में वह कार्य किया है...

सर्व प्राचीन वैदिक धर्म का आधार ईश्वर और उसका ज्ञान वेद

-मनमोहन कुमार आर्यसंसार में अनेक मत-मतान्तर प्रचलित हैं जो अपने आप को धर्म बताते हैं। क्या वह सब धर्म हैं?...

विश्व को वेदों से मिला आत्मा की अमरता व पुनर्जन्म का सिद्धान्त

-मनमोहन कुमार आर्यमनुष्य जीवन का उद्देश्य ज्ञान की प्राप्ति कर सत्य व असत्य को जानना, असत्य को छोड़ना, सत्य को...

जीवात्मा के भीतर व बाहर व्यापक परमात्मा को जानना हमारा मुख्य कर्तव्य

-मनमोहन कुमार आर्यसंसार में अनेक आश्चर्य हैं। कोई ताजमहल को आश्चर्य कहता है तो कोई लोगों को मरते हुए देख...

वैदिक साहित्य के प्रमुख प्राचीन ग्रन्थ विशुद्ध-मनुस्मृति का महत्व

-मनमोहन कुमार आर्यसमस्त वैदिक साहित्य में मनुस्मृति का गौरवपूर्ण स्थान है। मनुस्मृति के विषय में महर्षि दयानन्द जी ने अपने...

24 queries in 0.365