विधि-कानून

हद्द है – अब न्यायपालिका के खिलाफ भी जिहाद ?

 उपानंद ब्रह्मचारी शरीयत का प्रचार करने वाली मुस्लिम मौलवियों की सबसे शक्तिशाली संस्था जमीयत उलेमा-ए-हिंद