नित्य करें योग


मेघा जायसवाल

तन-मन को रखना हो निरोग

तो नित्य करें योग 

योग अगर है हमारे साथ 

तो आरोग्य थाम लेगा हाथ। 

योग करने से रहोगे स्वस्थ व सुंदर 

शरीर नहीं बनेगा रोगों का घर। 

योग की अनोखी है देखो माया 

अपनाकर इसे चमकेगी काया। 

तन-मन को रखना हो निरोग 

तो नित्य करें योग। 

सभी में यह अनमोल धन है 

इसी से संभव निरोगी जीवन है। 

आओ मिलाकर प्राणायाम करें 

अपने जीवन में सुख-समृद्धि भरें। 

अपनी इस पुरातन धरोहर का 

हम सभी उपयोग करें। 

अपनाकर इसे हम सभी 

समाज में खुशहाली भरें।

तन-मन को रखना हो निरोग 

तो नित्य करें योग। 

बच्चों को दे निरोगी जीवन का उपहार 

सफलता चूमेगी उनके कदम बार-बार 

क्योंकि स्वस्थ तन में ही 

स्वस्थ मन का वास है 

तन को निरोगी बनाने का 

यह सुगम प्रयास है। 

रहोगे स्वस्थ व सुंदर 

तो कामयाबी चूमेगी आपके कदम। 

तन-मन को रखना हो निरोग 

तो नित्य करें योग। 

Leave a Reply

%d bloggers like this: