हिन्दू परिवार की सदस्य है गोमाता – स्वामी अखिलेश्वरानंद

copy-of-1111-300x200रोहतक। हरिद्वार के प्रसिद्ध संत स्वामी अखिलेश्वरानंद ने गोवंश को हिन्दू परिवार का अभिन्न अंग बताया है। उन्होंने कहा कि माता के समान गोमाता का स्थान भी हिन्दू परिवार और समाज में बहुत पवित्र है। स्वामी जी विश्व मंगल गो ग्राम यात्रा के प्रथम पडाव रोहतक में 01 अक्टूबर 2009 को आयोजित सभा में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि यह छद्म-पंथनिरपेक्षता पर आधारित भारतीय राजनीति की विडम्बना ही कही जाएगी कि गोहत्या पर प्रतिबंध मुस्लिम बहुल माने जाने वाले जम्मू कश्मीर में तो है लेकिन हिन्दुत्व की प्रयोगशाला कहे जाने वाले गुजरात में कसाई गोहत्या को अपना मौलिक बताते हैं। उन्होंने कहा कि भारत कृषि प्रधान देश है और गौ कृषि की जीवनशक्ति है।

आर्य समाज के हरियाणा प्रांत के अध्यक्ष आचार्य बलदेव ने गोहत्या को हिन्दू समाज के लिए कलंक बताया। उन्होंने गांवों के उत्थान एवं गोवंश के संरक्षण के लिए आरंभ की गयी विश्व मंगल गो ग्राम यात्रा में युवाओं से बढचढ कर भागीदारी करने की अपील की।

गोकर्ण पीठाधीश्वर शंकराचार्य राघेश्वर भारती स्वामी ने जनसभा में उपस्थित लोगों से गोहत्या को रोकने के लिए एकजुट होकर संघर्ष करने की अपील की। उन्होंने कहा कि संत के रुप में गोवंश को बचाने के लिये मैं जीवन की अंतिम श्वांस तक संघर्ष करुंगा।

गो-ग्राम यात्रा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हुकुमचंद सांवला ने गोवंश की उपयोगिता की तरफ संकेत करते हुए कहा कि गोवंश से प्राप्त होने वाला पंचगव्य राम बाण औषधि है। उन्होंने कहा कि पंचगव्य के जरिए अनेक असाध्य रोगों को दूर किया जा सकता है। श्री सांवला ने कहा कि परंपरागत भारतीय दृष्टिकोण में आए परिवर्तन के कारण आज किसान गोपालन से दूर भाग रहा है। उन्होंने सरकार से गौ को राष्ट्रीय प्राणी घोषित करने की भी मांग की।

इससे पहले विश्व मंगल गो ग्राम यात्रा कुरुक्षेत्र से करनाल, पानीपत, गोहाना होते हुए रोहतक पहुंची। रास्ते में जगह-जगह पर स्कूली छात्रों और नागरिकों ने फूलों से यात्रा का स्वागत कर गो पालन और गो संरक्षण का संकल्प लिया। कई जगहों पर कलश यात्राएं भी निकाली गईं।

1 COMMENT

  1. गो माता के बारे में आम आदमी सिर्फ ये जानता है की ये दूध देती है गो माता मात्र एक पशु नहीं है वरन वो प्रकति है जिस तरह प्रकति हमे सब कुछ देती है ठीक उसी तरह गोमाता से भी हमे सब कुछ मिलता है इस लिए आइये हम प्रकति [गोमाता] को बचाए गोमाता को रास्ट्रीय पशु घोषित कराए तथा गोवध पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

* Copy This Password *

* Type Or Paste Password Here *

13,056 Spam Comments Blocked so far by Spam Free Wordpress