गुड़- गुड़ हुक्का पिया शेर ने,
मुंह से धुआं उड़ाया।
हाथी को वन के राजा का,
यह ढंग नहीं सुहा या ।

उसके मुंह से छीना हुक्का,
कसकर डांट पिलाई।
कैसे वन के राजा हो तुम,
तुम्हें शरम न आई।

तम्बाकू पर सारे वन में ,
ही प्रतिबंध लगा है।
तुमने ही आदेश निकला,
तुमको नहीं पता है?

नियम बनाने वाले ही जब,
नियम ताक पर रख दें।
किसी और से पालन की हम,
आशा कैसे कर लें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: