लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


मिथिला की प्रकृति पूजक संस्कृति का पर्व है जूड़-शीतल

राजधानी में सतुआइन-धुलखेल का आयोजन

DSC07925नई दिल्ली 14 अप्रैल, बिहार के मिथिला क्षेत्र में लोकप्रिय, प्रकृति प्रेम का प्रतीक पर्व जूड़ शीतल का आयोजन शनिवार को राजधानी दिल्ली में किया गया। मैथिल युवाओं की संस्था “यूथ ऑफ मिथिला” और गैर सरकारी संस्था “माटी” के इस संयुक्त आयोजन में बड़ी संख्या में मैथिल परिवार ने शिरकत की। मैथिली लोक संगीत व पारंपरिक व्यंजन के बीच कार्यक्रम में उपस्थित लोगो ने अपने से छोटे सदस्यों को माटी का टीका लगाकर “जुराएल रहू” (खुश रहिये )का आशीर्वाद दिया।

जूड़ शीतल की उपादेयता पर चर्चा करते हुए कार्यक्रम संयोजक भवेश नंदन झा ने कहा की ग्लोवल वार्मिंग के इस दौर मे इस पर्व की उपयोगिता और सार्थकता बढ़ गई है। हम अर्थ आवर के नाम पर उन जगहों की बत्ती भी बंद कर देते हैं, जहां बिजली कभी-कभार आती है। क्या हमने कभी रसोई से निकलनेवाली ऊर्जा पर गौर किया है। क्या हमने कभी रसोई को आराम देने की कोशिश की है। नहीं। लेकिन मिथिला क्षेत्र में वर्षों पुरानी एक ऐसी परंपरा है जो हमें ऐसा करने की प्रेरणा देती है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री संजय पासवान जूड़ शीतल केवल पर्व ही नहीं परम्परा का प्रतीक है। आज बहुत लोग इस पर्व के संबंध में नहीं जानते, मिथिला में भी यह पर्व सिमटता जा रहा है, अखबारऔर पत्रिका में भी इस पर्व के सबंध में कोई जानकारी नहीं है.. हमें इसको बचाना है..

DSC07872वहीँ बिहार विधानसभा में भाजपा के मुख्य सचेतक विधायक विनोद नारायण झा का कहना था कि हमें यह लगता रहता है कि हमारी संस्कृति खत्म होने के कगार पर है पर “यूथ ऑफ मिथिला” जैसी संस्था जो अपने संस्कृति को लेकर वचनवद्ध है के कार्यों को देखकर आशंका निर्मूल साबित होती है।

आयोजन के दौरान कार्यक्रम का विषय प्रवेश “यूथ ऑफ मिथिला” के सचिव अमिताभ भूषण ने किया व धन्यवाद ज्ञापन कमलेश किशोर झा ने किया तथा मंच सञ्चालन आशुतोष झा ने किया.. इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय सचिव अनिल जैन, वरिष्ठ भाजपा नेता गोपाल झा, बिहार युवा भाजपा के उपाध्यक्ष सरफराज हुसैन, पत्रकार अनुरंजन झा, वीरेंद्र चौधरी, उमेश चतुर्वेदी, दीपक कुमार, अविनाश दास, रौशन कुमार झा. वरिष्ठ प्रशासनिक पदाधिकारी प्रभाष दास, आर. एन. झा, अवधेश झा.. सामजिक कार्यकर्त्ता आमिर खुसरो, क्रांति प्रकाश, के. एन. झा, राजेश झा, नीरज पाठक, अभिषेक पांडे, रामचन्द्र झा, निर्मल मिश्रा, संजीव सिन्हा, जयराम विप्लव, विजय झा आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *