आओ अपना नववर्ष मनाएं


आओ हम सब मिलकर अपना नववर्ष मनाएं।
घर घर हम सब मिलकर नई बंदनवार लगाए।

करे संचारित नई उमंग घर घर सब हम,
फहराए धर्म पताका अपने घर घर हम।
करे बहिष्कार पाश्चातय सभ्यता का हम,
अपनी सभ्यता को आज से अपनाए हम।
आओ सब मिलकर नववर्ष का दीप जलाए
आओ हम सब मिलकर अपना नववर्ष मनाए,
घर घर हम सब मिलकर नई बंदनवार लगाए।।

क्या कारण है हम अपना नववर्ष नहीं मनाते है,
केवल पाश्चातय सभ्यता का हम नववर्ष मनाते है।
रंग जाते है नई सभ्यता मे भूल गए अपने को।
रहे गुलाम अंग्रेजो के भूल गए अपने सपनों को।
आओ सब मिलकर इस सभ्यता की होली जलाए,
करे बहिष्कार इन सबका अपना नववर्ष मनाए।
आओ घर घर नववर्ष का हम सब दीप जलाएं।।

Leave a Reply

30 queries in 0.346
%d bloggers like this: