भगवान कृष्ण हैं योग क्षेम के ईश्वर

—विनय कुमार विनायक
भगवान कृष्ण हैं नटवर!
धेनु चराते वंशी धुन पर
नर्तन करते नाग के फन पर
पर्वत उठाते उंगली पर
योग-क्षेम और युद्ध-प्रेम के ईश्वर
भगवान कृष्ण हैं नटवर!

भगवान कृष्ण हैं योगेश्वर!
कर्मयोग, सांख्ययोग,
भागवत भक्ति की घूंटी
भ्रमित अर्जुन को पिलाया
युद्ध भूमि में योगेश्वर बनकर
भगवान कृष्ण हैं योगेश्वर!

भगवान कृष्ण हैं मुनिवर!
ज्ञान मिला था कृष्ण को
घोर आंगिरस अरिष्ठनेमी से,
जो बाईसवें तीर्थंकर नेमीनाथ थे
गीता ज्ञान दिया जो कृष्ण ने
उपनिषद के, वेद से कुछ हटकर
भगवान कृष्ण हैं जैन मुनिवर!

भगवान कृष्ण हैं ईश्वर!
ज्ञान दिया जो अर्जुन को
वह तो उपदेश है, सबको तजो,
सिर्फ मुझे भजो,अहं ब्रह्मास्मि,
ढेर हुए हैं अवतार भूमि पर
भगवान कृष्ण हैं ईश्वर!

भगवान कृष्ण हैं परमेश्वर!
ज्ञान,कर्म और भक्ति का,
अनासक्त भाव से कर्म करो
कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन
ऐसा तो भगवान ही कहते हैं
भगवान कृष्ण हैं परमेश्वर!
—विनय कुमार विनायक

Leave a Reply

%d bloggers like this: