शादियाँ कुछ ऐसे होगी

WHO के अनुसार कोरोना अब जाने वाला तो नहींं है। आने वाले समय में शादियों की रूपरेखा कैसी होगी। हज़ार मेहमान तो बुलाना संभव नहीं होगा। घर के तीस चालीस लोगों को शादी में आने की अनुमति होगी, छ: फिट पर फूलों के गोले बने होंगे उनमें एक एक  व्यक्ति खड़ा हो सकेगा। बुज़ुर्गों के लिये आराम देह  कुर्सियाँ होंगी कुर्सियाँ भी दूर दूर होंगी। गेट पर सैनिटाइज़र हाथों मे लगाने के लिये घर के बेटे बहू खड़े होंगे। बारातियों को सेनिटाइज़र डिज़ाइनर शीशियों मे पैक करके दिया जायेगा । एक व्यक्ति थर्मल स्क्रीनिंग करेगा। यदि किसी का तापमान ज़रा भी ज्यादा होगा तो उसे काँच के चैंबर में भेज दिया जायेगा जहाँ से वो शादी देख सकेगा और अन्य मेहमान भी उन्हे शादी की साजो सज़्जा के साथ देख सकेंगे।  वहाँ स्पीकर लगे होंगे।

अधिक मेहमान नहीं बुला सकते इसलिये सभी को वीडियो लिंक से जोड़ा जायेगा। वीडियो से विवाह देखने वालों को मास्क न पहनने की छूट दी जायेगी इसलिये महिलायें लिप्सटिक लगा सकेगी। भोजन लेने पाँच पाँँच लोग सोशल डिसटैंसिंग साथ उठेंगे। दूल्हा दुल्हन छ; फिट दूर बैठेंगे।  सब महमानों की फोटो अलग अलग खिंचेगी बाद में फोटो शाप के ज़रिये ग्रुप फोटो वगैरह बनाये जायेंगे।

वीडियो पर शादी में शामिल  मेहमानों के भोजन की व्यवस्था स्विगी या ज़ोमैटो से होगी और शादी में परोसे गये सब व्यंजन उनके घर पहुँच जायेंगे और वो सबके साथ भोजन का आनंद लेंगे। तोहफ़े सिर्फऑन लाइन भेजे जायेगे कैश के लिफाफ़े नहीं दिये जायेंगे, पेटी एम स्वीकार होंगे।

मास्क शादी का बहुत बड़ा हिस्सा होंगे सभी मेहमान मास्क पहन कर आयेंगे। गले में लटकाने की इजाज़त नहीं दी जा सकती। बिदाई में भी मेहमानों को रिश्ते के अनुसार मास्क और सैनिटाइज़ दिये जायेंगे। नौकर चाकरों के लिये सूती मास्क और साबुन होगा। दूल्हा दुल्हन ज्वेलरी मास्क पनेंगे।बाकी घरवाले अपने कपड़ो के साथ मैचिंग, कंट्र्रा्स्ट या कढ़े हुए मास्क पहन सकते हैं। बैग और जूतों से मैचिंग मास्क भी अच्छे लगेगें।

मेकअप में लिप्सटिक के बुरे दिन आयेंगे बाकी मेकअप बदस्तूर चलेगा।

छोटे छोटे कपड़े या बड़े बड़े गले के ब्लाउज़ और गाउन कोई नहीं पहनेगा सीधे किसी से छू न जाये इसलिये हिजाब का भी फैैशन आयेगा। बस इतना कहना काफी है कहीं लोग PPE पहनकर न जायें।

Leave a Reply

%d bloggers like this: