मिलना अपने श्याम से,ये सोच कर आये है

मिलना अपने श्याम से,ये सोच कर आये है
दर्शन करने को हम सब लौट कर आये है

छटा तुम्हारी सारे संसार में बिखरी है
माया तुम्हारी सारी दुनिया में दिख रही है

अनाथो के नाथ हो तुम,नाथ बनाने आये है
तेरे दर्शन को हम सब लौट कर आये है 

तीनो लोक के मालिक हो,मृत्यु लोक तुम्हारा है
इस मृत्यु लोक से निकालो,तुम्हारा एक सहारा है

मृत्यु लोक से निकलने के लिये तुम्हारे पास आये है
तेरे दर्शन को हम  सब तेरे पास आये है

आर के रस्तोगी 

Leave a Reply

%d bloggers like this: