नीतीश कुमार का रिक्शा मंत्र

पंद्रहवीं लोकसभा चुनाव का रंग अब धीरे-धीरे गाढ़ा होता जा रहा है। इसी का परिणाम मालूम पढ़ता है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ऑस्कर पुरस्कार बटोरने वाली फिल्म…

nitish-kumarपंद्रहवीं लोकसभा चुनाव का रंग अब धीरे-धीरे गाढ़ा होता जा रहा है। इसी का परिणाम मालूम पढ़ता3 है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ऑस्कर पुरस्कार बटोरने वाली फिल्म स्लमडौग मिलियनेयर देखने रिक्शा से पटना के अशोक सिनेमा हॉल पहुंचे। साथ ही उनके सुरक्षाकर्मी रिक्शा के साथ दौड़ लगाते सिनेमा हौल पहुंचे।

खबर आई कि मुख्यमंत्री आवास से अशोक सिनेमा हॉल तक के लिए उन्होंने रिक्शा चलाने वाले को तीन सौ रुपये दिए। यानी करीब पांच किलोमिटर की दूरी का रिक्शा भाड़ उन्होंने 300 रुपया तय किया है। खैर, यह उनकी अदा है। हालांकि ऐसे कामों का कौपी राइट लालू जी के पास है। लेकिन, उन्हें मात देना है तो कुछ करना ही पड़ेगा।

बहरहाल, इस मौके पर उन्होंने पत्रकारों से कहा कि रिक्शा आम आदमी की सवारी है। मैंने इच्छा इस चर्चित फिल्म को देखने की हुई, इसलिए मैंने सोचा कि क्यों न पुरानी यादें ताजा कर ली जाएं। इस कारण मैंने रिक्शा से ही सिनेमा हॉल जानने का फैसला किया।
नीतीश जी ने तो बहुत अच्छा किया। अब सुरक्षाकर्मी को दौड़ें तो अपनी बला से, उन्हें क्या ? हालांकि सिनेमा हॉल में पहले से ही सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे। मुख्यमंत्री के साथ जनता दल-यूनाइटेड के प्रदेश अध्यक्ष ललन सिंह भी थे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: