लेखक परिचय

प्रभुदयाल श्रीवास्तव

प्रभुदयाल श्रीवास्तव

लेखन विगत दो दशकों से अधिक समय से कहानी,कवितायें व्यंग्य ,लघु कथाएं लेख, बुंदेली लोकगीत,बुंदेली लघु कथाए,बुंदेली गज़लों का लेखन प्रकाशन लोकमत समाचार नागपुर में तीन वर्षों तक व्यंग्य स्तंभ तीर तुक्का, रंग बेरंग में प्रकाशन,दैनिक भास्कर ,नवभारत,अमृत संदेश, जबलपुर एक्सप्रेस,पंजाब केसरी,एवं देश के लगभग सभी हिंदी समाचार पत्रों में व्यंग्योँ का प्रकाशन, कविताएं बालगीतों क्षणिकांओं का भी प्रकाशन हुआ|पत्रिकाओं हम सब साथ साथ दिल्ली,शुभ तारिका अंबाला,न्यामती फरीदाबाद ,कादंबिनी दिल्ली बाईसा उज्जैन मसी कागद इत्यादि में कई रचनाएं प्रकाशित|

Posted On by &filed under जन-जागरण.


14मार्च को संसद में रेल बज़ट पास हुआ जिसमें कमलनाथ के संसदीय क्षेत्र छिंदवाड़ा को ढेर सारी सौगातें मिली| इसे कमलनाथ का व्यक्तिगत प्रयास कहें या छिंदवाड़ा के प्रति कुछ कर गुजरने की लगन यह सोच का विषय विरोधियों के लिये हो सकता है किंतु छिंदवाड़ा की जनता के अपार लगाव तो स्पष्ट झलकता ही है| जन अपेक्षाओं से भी ज्यादा यहां रेलवे सुविधाओं की गति को विस्तार देते हुये उन्होंने यह सिद्ध तो कर ही दिया है कि वे छिंदवाड़ा के विकास के लिये कितने क्रियाशील हैं| सरकार में उनकी पहुँच को भी बखूबी जाना जा सकता है| छिंदवाड़ा से नागपुर अमान परिवर्तन का काम तीव्र गति से चल ही रहा है अब इस लाइन को विद्युतीकृत करने के लिये के लिये योजना आयोग के द्वारा 250 करोड़ स्वीकृत होने के बाद इस साल के बज़ट में शामिल होने से यह निश्चित हो गया है कि अमान परिवर्तन के साथ ही यह रेलमार्ग विद्युतीकृत हो जायेगा|

| छिंदवाड़ा से आमला के बीच एक और लाइन डालने की स्वीकृति इस बज़ट में मिलने से यह रेल पथ दुहरी लाइन का हो जायेगा और इस लाइन के विद्युतीकरण की सौगत भी इस रेलवे बज़ट में मिलने से नागपुर छिंदवाड़ा आमला लाइन संपूर्ण विद्युतीकृत हो जायेगी और शीघ्र ही दक्षिण से उत्तर की ओर जाने वाली लंबी दूरी की कुछ गाड़ियां छिंदवाड़ा होकर निकलने लगेंगी| अभी उत्तर अथवा दक्षिण की ओर यात्रा करने में जो समय लगता है उसमें कमी आयेगी ही छिंदवाड़ा क्षेत्र के यात्रियों को वे सुविधायें भी मिलने लगेगीं जो बड़े शहर के यात्रियों को मिलती हैं|

पिछले बज़ट में छिंदवाड़ा झांसी और छिंदवाड़ा ग्वालियर ट्रैन को रॊहिल्ला सराय [दिल्ली] तक चलाने की घोषणा सप्ताह में केवल चार‌

दिन चलाने के लिये हुई थी| इस बज़ट में इसे सातों दिन चलाने की घोषणा कर दी गई है| अब इस क्षेत्र के यात्री प्रतिदिन इस गाड़ी से यात्राकर सकेंगे|

निकट भविष्य में छिंदवाड़ा बुंदेलखंड से भी जुड़ेगा |इसके लिये इस रेल बज़ट मे छिंदवाड़ा से गाडरवाड़ा सागर बांदा खजुराहो रेल मार्ग के निर्माणके लिये घोषणा करवाकर कमलनाथ ने एक निष्ठावान समर्थ और प्रभावशाली सांसद होने का परिचय दिया है| आने वाले समय में छिंदवाड़ा खजुराहो जैसे प्रसिद्ध पर्यटन स्थल से सीधे ही जुड़ जायेगा| छिंदवाड़ा एक बड़ा जंक्शन होगा|

छिंदवाड़ा में तो माडल स्टेशन बन ही रहा है परासिया स्टेशन को भी माडल स्टेशन बनाने के लिये भी इस बज़ट में घोषणा कमलनाथ के अथक प्रयासों का प्रतिफल ही है|

2 Responses to “कमलनाथ के छि‍दवाड़ा को रेल मंत्री ने दीं ढेरों सौगातें”

  1. m.m.nagar

    निश्चय ही कमलनाथ ने हमेशा ही छिन्वाडा की सेवा मन से की है अन्य नेतओं को इससे सबक लेना चाहिए….

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *