शिव अराधना

मिलता है सच्चा सुख केवल,
शिव जी तुम्हारे ही चरणों में।
रहे कृपा सदा तुम्हारी हम पर,
और ध्यान रहे तुम्हारे चरणों में।।

चाहे मौत गले का हार बने,
चाहे बैरी सारा संसार बने।
हम डिगे नहीं सच्चे पथ से,
ये जीवन का संस्कार बने।।

करे नित्य नियम से तेरी पूजा,
कर्तव्यों को समझे तेरी पूजा।
करे नहीं किसी का तिरस्कार,
तभी सफल होगी शिव की पूजा।।

आया है सावन मास आपका,
सारा है पावन मास आपका।
नित्य करे बस पूजा आपकी,
रहे ये वरदान हम पर आपका।।

कोरोना से है सभी बैचैन,
मिल रहा न कहीं भी चैन।
लगाए सब शिव का ध्यान,
तभी मिलेगा कोरोना से चैन।।

गले में सर्प की माला है डाले,
हाथ में त्रिशूल डमरू है बाजे।
मस्तक पर चन्द्रमा है बिराजे,
जटाओ में गंगा मैया है बिराजे।।

ऐसे शिव का करो तुम सब ध्यान,
वहीं करगे सारे जग का कल्याण।
सारा जग कोरोना से मुक्त होगा ,
नया अध्याय फिर से शुरु होगा।।

आर के रस्तोगी

Leave a Reply

%d bloggers like this: