ऋषि दयानन्द और आर्यसमाज

विश्व के प्रथम ग्रन्थ वेदों के हिन्दी में प्रचारक ऋषि दयानन्द और आर्यसमाज

धार्मिक एवं सामाजिक संस्था आर्य समाज की स्थापना स्वामी दयानन्द सरस्वती जी ने 10 अप्रैल, सन्  1875 को मुम्बई नगरी...

विश्व में वेदों के प्रचार का श्रेय ऋषि दयानन्द और आर्यसमाज को है

-मनमोहन कुमार आर्य                 पांच हजार वर्ष पूर्व हुए महाभारत युद्ध के बाद वेदों का सत्यस्वरूप विस्मृत हो गया था।...

वैदिक धर्म और आर्यसमाज को समर्पित आचार्य चन्द्रशेखर शास्त्री’

मनमोहन कुमार आर्य आचार्य चन्द्रशेखर शास्त्री जी के व्यक्तित्व व कृतित्व से समूचा आर्यजगत एवं विद्वतजन परिचित हैं।आप बहुप्रतिभाशाली व्यक्तित्व...

31 queries in 0.356