नर-सिंह अवतार का व्यावहारिक पक्ष