प्रदेश में प्रशासन पस्त