वैचारिक संघर्ष नहीं, केरल में है लाल आतंक

Posted On by & filed under विविधा

राजेश के शरीर पर 83 घाव बताते हैं कि केरल में किस तरह लाल आतंक हावी है, केरल में दिखाई नहीं देता क़ानून का राज लोकेन्द्र सिंह केरल पूरी तरह से कम्युनिस्ट विचारधारा के ‘प्रैक्टिकल’ की प्रयोगशाला बन गया है। केरल में जिस तरह से वैचारिक असहमतियों को खत्म किया जा रहा है, वह एक तरह से कम्युनिस्ट विचार के… Read more »

‘भगवान के घर’ में वामपंथ का आतंक

Posted On by & filed under टॉप स्टोरी, महत्वपूर्ण लेख, विविधा

केरल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा के कार्यकर्ताओं पर वामपंथियों के हमले बढ़े, अब तक 300से अधिक निर्दोष लोगों की हत्या   – लोकेन्द्र सिंह ‘ईश्वर का अपना घर’ कहा जाने वाला प्राकृतिक संपदा से सम्पन्न प्रदेश केरल लाल आतंक की चपेट में है। प्रदेश में लगातार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी… Read more »

लाल आतंक का निशाना बनते जवान

Posted On by & filed under टॉप स्टोरी, समाज

प्रमोद भार्गव माओवादी नक्सलियों द्वारा छत्तीसगढ़ में जिस तरह से सीआरपीएफ के जवानों पर घात लगाकर हमले किए जा रहे हैं,यह स्थिति चिंताजनक है। इस बार लाल आतंकियों ने धुर नक्सल प्रभावित सुक्मा जिले के चिंतागुफा थाना क्षेत्र के जंगलों में नक्सलियों की टोह ले रहे एसटीएफ जवानों की टुकड़ी पर हमला बोला है। जिसमें… Read more »