लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के घालमेल को लेकर केंद्र सरकार अब जाग चुकी है. लीग के क्रियाकलापों को लेकर जांच कार्रवाई शुरू हो चुकी है. वित्त मंत्रालय ने जांच का काम शुरू करा दिया है.

छापे मारे जा रहे हैं. टीमों की खरीद-बिक्री की प्रक्रिया से लेकर पैसों के लेनदेन, टैक्स चोरी और मैच फिक्सिंग के आरोपों तक की जांच हो रही है. ललित मोदी के लिए बचाव का कोई रास्ता नहीं दिखता. आज भले अखबार से लेकर न्यूज चैनल तक आईपीएल और मोदी के खिलाफ बढ़-चढ़कर लिख बोल रहे हों, लेकिन सच तो यही है कि थोड़े दिनों पहले तक यही मीडिया मोदी के गुण गाते नहीं थकती थी.

आईपीएल के मैच फुटेज और कवरेज को लेकर मीडिया की मोदी के साथ तकरार भी हुई, लेकिन क्रिकेट बिकता है और सबको मोदी के सामने झुकना पड़ा. ‘चौथी दुनिया’ वीकली अखबार ने सबसे पहले आईपीएल और मोदी के काले कारनामों को जनता के सामने पेश किया. 5-11 अप्रैल वाले अंक में चौथी दुनिया ने आईपीएल में पैसों के खेल और मैच फिक्सिंग को लेकर कवर स्टोरी छापी थी. इस लेख में किसी का नाम नहीं छापा गया था.

अखबार में इस खबर की फॉलोअप स्टोरी भी होनी थी और सभी नामों का खुलासा किया जाना था कि इस खबर ने ऐसी चिंगारी का काम किया कि पूरा आईपीएल ही विवाद के घेरे में आ गया. इस मामले ने ऐसा तूल पकड़ा कि मनमोहन सरकार को थरूर की बलि देनी पड़ी और अब अगला नंबर ललित मोदी का है.

2 Responses to “आईपीएल पर पहला सवाल ‘चौथी दुनिया’ ने उठाया!”

  1. VIJAY SONI ADVOCATE

    क्रिकेट-कोक-कोलगेट यानि तीन “सी” भारतीय जीवन दर्शन ,सभ्यता और संस्कृति के विपरीत जबरदस्ती तथाकथिंत विश्व बाजारवाद के लिए थोपा गया है .

    Reply
  2. Jasbir Chawla

    Criket ke hamam me sab nange ho rahe the.Sab chup the.Ab majburi me kanooni danda utha hai.Danda kis kis par chlega,kaun kaun bachega pata nahin.bachane wale Aaka bahut hain.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *