लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़.


चौथी दुनिया ने अपने इन्टरनेट टीवी के न्यूज स्कूप में ये खुलासा किया है, की आई पी एल के कई बड़े अधिकारी गिरफ्तार हो सकते हैं, अगर इस खबर की मानें तो आई पी एल में जिस प्रकार फोरेन एक्स्चेंज(FEMA) कानून का मजाक बनाया गया है, उसके कारवाई में अगले २४ घंटे में ललित मोदी सहित आई पी एल के कई बड़े आला अधिकारी गिरफ्तार किये जा सकते हैं.

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के घालमेल को लेकर केंद्र सरकार अब जाग चुकी है. लीग के क्रियाकलापों को लेकर कानूनी कार्रवाई शुरू हो चुकी है. वित्त मंत्रालय से लेकर फोरेन एक्स्चेंज रेगुलेट्री ऑथोरिटी तक पुरी तरह सकते में आ गयी है और इसके हर पहलु की जांच का काम शुरू कर दिया है. जहीं – तहीं छापे मारे जा रहे हैं. टीमों की खरीद-बिक्री की प्रक्रिया से लेकर पैसों के लेनदेन, टैक्स चोरी और मैच फिक्सिंग के आरोपों तक की जांच हो रही है. ललित मोदी सहित आई पी एल के कई बड़े अधिकारी के लिए अब बचाव का कोई रास्ता नहीं दिखता. आज भले अखबार से लेकर न्यूज चैनल तक आईपीएल और मोदी के खिलाफ बढ़-चढ़कर लिख बोल रहे हों, लेकिन सच तो यही है कि थोड़े दिनों पहले तक यही मीडिया मोदी के गुण गाते नहीं थकती थी.

चौथी दुनिया ने इससे पहले भी आई पी एल में मैच फिक्सिंग को लेकर एक स्टोरी की थी, और आई पी एल को ‘इंडियन फिक्सिंग लीग, की संज्ञा दी थी.

2 Responses to “आई पी एल के कई बड़े अधिकारी ललित मोदी सहित गिरफ्तार हो सकते हैं!”

  1. satish mudgal

    It is an irony that we see only what the others want to show us.
    First they show us a business as a game and we took interest like a game and IPL, BCCI & media earned Crores in the name of Game but purely from a business activities.
    After exposing of a Union Minister ( We can also say Twitter Minister / Human Minister not a cattle Minitster ) into this loot of public money Government seems to make the IPL Chairman Lalit Modi a law breaker but they also want on the same time, this IPL as a Game.

    If Government is adament to do something, it can do or prove it as such but it can not separate Lalit Modi from Other politicians who are also co accused in the offence they want to create.
    What is the delay in making Lalit Modi a Criminal is only because they want to make liable only to Modi or his relative and not to any other politician.

    Now the public and Media see what the government want to show us as regards the IPL.

    Reply
  2. सुनील पटेल

    मीडिया ने ही क्रिकेट को देव खेल का दर्जा दिया है. आम व्यक्ति के पास क्रिकेट देखने का वक़्त ही कहाँ है (आम व्यक्ति मतलब वह जिन्हें आजादी के समय अंग्रजो के छोड़े गए तीन वायरस *अंग्रजी, चाय और क्रिकेट’ मैं से क्रिकेट के विषाणु नहीं लगे हो.).

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *