तो कोरोना क्यों होय ||

साबुन से सब धोइये,अपने दोनों हाथ |
कोरोना से छूट जायेगा,तुम्हारा साथ ||

जनता कर्फ़यु लगाईये,आगामी रविवार |
कम हो जायेगा तुम पर,कोरोना का वार ||

डॉक्टर्स,नर्स का करो तुम प्रगट आभार |
ये लोग सदा करते ,तुम्हारा ही उपकार ||

बुजर्गो को मत भेजिए,घर से तुम बाहर |
झेल न पात है,ये कोरोना का तीखा वार ||

करो दूर से नमस्ते,हाथ न अब मिलाये |
एक दूजे से दूर रहकर,कोरोना को भगाये ||

आगामी रविवार को सब,पांच बजे शाम |
धन्यवाद दो उनका जो करते नेक काम ||

कोरोना कोरोना सब कहे,करुणा करे न कोय |
जो एक बार करुणा करे,तो कोरोना क्यों होय ||

आर के रस्तोगी

Leave a Reply

%d bloggers like this: