आर के रस्तोगी

मै भारत का मतदाता हूँ,हर बार ही धोखा खाता हूँ |
जब जब चुनाव आते है,उस समय ही पूजा जाता हूँ ||

नेताओ का कोई धर्म नहीं,ये झूठे वादे ही करते रहते है |
पांच साल चुनाव के बाद ,अपनी शक्ल दिखाने आते है ||

अखंड भारत की जो बाते करते,ये ही भारत को बटवाते है |
धर्म जाति का डर दिखा कर,जनता को आपस में लडाते है ||

पूजा पाठ में लगे है सब नेता,तीर्थ करने अब सब जाते है |
जो कभी नहीं गये मंदिर,अब हर शहर के मंदिर में जाते है ||

मिल जायेगी जब सत्ता इनको,ये नजर नहीं कहीं आयगे |
संसद में लड़ेगें भिड़ेगें,जनता को शांति का सबक सिखायेगे ||

मै ही भारत का मतदाता हूँ,नेताओ को सत्ता दिलाता हूँ |
मत का दान भी देकर भी,मै इनसे अपनी दुर्गति करवाता हूँ

आर के रस्तोगी
मो 997100642

Leave a Reply

%d bloggers like this: