लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under विविधा.


बजरंग दल के राष्ट्रीय संयोजक श्री प्रकाश शर्मा ने एक विज्ञप्ति के माध्यम से कश्मीर घाटी में घट रही घटनाओं की कड़े शब्दों में निन्दा करते हुए उन्हें पूर्व नियोजित बताया है। श्री शर्मा ने कहा कि इन घटनाओं का एकमात्र उद्देश्य किसी भी प्रकार से अमरनाथ की वार्षिक यात्रा को बाधित करना है। पिछले एक दशक से घाटी में रहने वाले अतिवादी राष्ट्र विरोधी तत्व लगातार यह प्रयत्न करते रहे हैं कि किसी भी प्रकार हिन्दू समाज का घाटी में प्रवेश रोक दिया जाए। प्रतिवर्ष होने वाली अमरनाथ यात्रा उनके इस षड्यंत्र को विफल करती रही है। लाखों की संख्या में हिन्दू समाज निर्भय होकर इस यात्रा को सफल करता रहा है। सन् 2008 में अमरनाथ यात्रियों के लिए बेस कैम्प के लिए दी गई जमीन का विरोध भी यही उद्देश्य लेकर किया गया था कि अमरनाथ यात्रा को हमेशा के लिए रोक दिया जाए किन्तु हिन्दू समाज की एकजुटता के कारण यह षड्यंत्र सफल नहीं हो सका।

श्री शर्मा ने आरोप लगाया कि कहीं न कहीं इस षडयंत्र में जम्मू कश्मीर की सरकार भी शामिल दिखाई देती है। सरकार के द्वारा बाहर से आने वाले वाहनों पर भारी मात्रा में टेक्स थोपना, श्री अमरनाथ यात्रा पर दुर्गम स्थानों में लगाए जाने वाले नि:शुल्क भण्डारों पर एकमुस्त टैक्स के साथ-साथ दान में मिली खाद्य सामग्री पर अलग-अलग टैक्स निर्धारित करना इस बात को सिध्द करता है कि सरकार की मंशा भी यही है कि अमरनाथ की वार्षिक यात्रा को बिना कुछ कहे रोक दिया जाए। आज स्थिति को नियंत्रण में करने के लिए सेना मांगने वाले मुख्यमंत्री और उनकी सरकार क्या यह बता सकते हैं कि आखिर घाटी से सेना हटाने की मुहिम मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला, उनके पिता फारूख अब्दुल्ला द्वारा क्यों चलाई गई थी, इससे ही यह स्पष्ट होता है कि जम्मू कश्मीर सरकार स्वयं नहीं चाहती कि अमरनाथ यात्रा, साथ ही अन्य धार्मिक स्थानों की यात्रा बिना किसी बाधा के सम्पन्न हो सके। इस सम्पूर्ण प्रकरण पर केन्द्र सरकार की चुप्पी घातक है। अनन्तनाग में लगातार हो रही घटनाओं ने जम्मू कश्मीर सरकार द्वारा सुरक्षित यात्रा सम्पन्न कराए जाने की दावों की पोल खोल दी है। अतिवादियों के हौंसले इसलिए भी बुलन्द हैं क्योंकि जम्मू कश्मीर की इस्लामपरस्त सरकार लगातार सेना व अर्द्धसैनिक बलों को कटघरे में खड़ा कर उनका मनोबल गिराने का काम करती रही है।

श्री शर्मा ने केन्द्र सरकार से मांग की कि तत्काल प्रभाव से कश्मीर घाटी को सेना के हवाले किया जाए एवं जम्मू व कश्मीर दोनों सम्भागों में सेना की पर्याप्त तैनाती की जाए जिससे कि हिन्दू समाज की यह धार्मिक यात्रा सम्मानपूर्वक निर्विघ्न सम्पन्न हो सके। श्री शर्मा ने यह भी बताया कि जिस प्रकार से अनन्तनाग में धार्मिक स्थल को निशाना बनाया गया है एवं अमरनाथ यात्रा पर जाने वाली बसों पर भी हमला किया गया है, इसे हिन्दू समाज कभी स्वीकार नहीं करेगा। सरकार अतिवादियों के खिलाफ कठोर कदम उठाए अन्यथा गम्भीर परिणाम भोगने के लिए तैयार रहे। अमरनाथ की पवित्र यात्रा हर कीमत पर सम्पन्न करने के लिए हिन्दू समाज तैयार है।

Leave a Reply

3 Comments on "राष्‍ट्रविरोधी तत्‍व अमरनाथ यात्रा को बाधित कर रहे हैं: बजरंग दल"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
Raj
Guest
शर्मा जी ने बिलकुल ठीक कहा है पर इसमें कांग्रेस सर्कार की नियत ठीक नहीं है कश्मीर के मुद्दे पर जानकर भड़का रही है ताकि हिंदुयों को भड़काकर दंगे करवाए और कहे” की हिंदुयों के वजह से मुस्लमान की भावनाए आहत हुई इसीलिए उन्होंने जिहाद छेड़ा और हिंदुयों की वजह से कश्मीर अलग जुआ है ” और अपने गुप्त अजेंडे की तहत कश्मीर को आजाद कर दे और उसका ठीकरा हिंदुयों पर फोड़ दे ताकि उनका कम भी हो जाये वोट बैंक भी बना रहे और कुछ बेवकूफ सेकुलरवादियों के जरिये हिंदुयों और हिन्दुत्ववादी संघटनो पर ban लगाया जा सके… Read more »
तिलक राज रेलन
Guest

निश्चित ही स्‍वतंत्रता आंदोलन के काल में पत्रकारिता ने जन-जागरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी किन्तु आज यह जनसरोकारों की बजाय पूंजी व सत्ता का उपक्रम बनकर रह गई है। जनता से दिन-प्रतिदिन दूर हो रहा मीडिया चिंता का विषय है। आज पूंजीवादी मीडिया के वैकल्पिक मीडिया, जिसकी आवश्यकता रेखांकित हो रही है।उसके इसी विकल्प का नाम है युगदर्पण- वन्देमातरम….तिलक

sunil patel
Guest

कैलाश मन सरोवर यात्रा को करने के लिए वीसा लेना पड़ता है क्योंकि चीन ने उसे अपने कब्जे में कर रखा है. सरकार की यही निति रही तो वोह दिन दूर नहीं जब कश्मीर के लिए भी वीसा लेना पड़ जाये.

wpDiscuz