लेखक परिचय

कुशल सचेती

कुशल सचेती

अलवर

Posted On by &filed under कविता.


कुशल सचेती

कांग्रेस- मनमोहन-सोनिया और अब राहुल

देख तेरे भारत की हालत क्या कर दी हे राम….!

कांग्रेसासुरों की करतूतों का है ये परिणाम

देख तेरे भारत…….

गांधी बाबा के ये बंदे, रचते रहे नित नए फंदे,

कितने ये मक्कार औ अंधे, इन धूर्तो के जाली धंधे,

गांधी-नेहरू-गांधियों की मुग़ल सल्तनत देखी है ?

वंशवाद का अज़ब तमाशा, भारत भाग्य की रेखी है..

वीर-महापुरुषों को कभी भी दिया न कुछ सम्मान,

देख तेरे भारत……

गज़ब,सितम अफसोस ये देखो ‘मनमोहन’ के बारे में,

कांग्रेस की दुर्गा ने थोपा, कोई मिला ना सारे भारत में,

इस मिट्टी के माधो(मनमोहन) ने देश को करवाया बदनाम,

देख तेरे भारत ……

कांग्रेस के विष-पुरुषों ने, राम तक को नर दिया,

राम मंदिर कोर्ट ने माना, फिर भी इसे बनने ना दिया,

राम्सेतु को कल्पित कहते ये बुद्धि के बैरी तमाम,

अरबो-खरबो का धन लूटा, घोटाले भ्रष्टाचार किया,

बाबा राम देव और अन्ना के संग दमन व् अत्याचार किया,

प्रधानमंत्री तान सो गया, देश में मच रहा कोहराम,

देख तेरे भारत…….

अभिषेक, दिग्विजय,कपिल,चिदंबरम विष के भरे पिटारे है,

उलटे-सीधे रोज रो रहे, लोकतंत्र के हत्यारे है,

हया शर्म नही आँखों में, अपराध कर रहे अविराम,

देख तेरे भारत ……..!!!!

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz