लेखक परिचय

प्रवक्‍ता ब्यूरो

प्रवक्‍ता ब्यूरो

Posted On by &filed under प्रवक्ता न्यूज़, विधानसभा चुनाव.


भारतीय जनता पार्टी की वरिष्ठ नेत्री एवं नेता प्रतिपक्ष (लोकसभा) श्रीमती सुषमा स्वराज ने कहा है कि यू0पी0 में चुनाव प्रचार करने व तीन चरणों के मतदान संपन्न होने के बाद यह साफ हो गया है कि उ0प्र0 का चुनाव परिणाम सभी सर्वेक्षणों के विपरीत होगा। प्रदेश मुख्यालय पर पत्रकारों से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार बनाने की ओर बढ़ रही है।

श्रीमती स्वराज ने कहा कि उ0प्र0 में भाजपा एक सशक्त विकल्प के रूप में उभरी हे। उन्होंने कहा कि सपा का विकल्प मजबूरी का है जबकि भाजपा का विकल्प आम आदमी के पसन्द का है। पिछले चुनाव में प्रदेश की जनता ने सपा से छुटकारा पाने के लिए मजबूरी में बसपा को चुना था। उन्होंने कहा कि भाजपा आम आदमी से जुडे़ मुद्दों को लेकर चुनाव लड़ रही है। मंहगाईए भ्रष्टाचार, काला धन वापसी, धर्म आधारित आरक्षण तथा खुदरा व्यवसाय में विदेशी निवेश आदि ऐसे मुद्दे हैं जो हर आम आदमी को छूते हैं। उन्होंने कहा कि इसके विपरीत तीनों पार्टियों के पास कोई मुद्दा नहीं है।

श्रीमती स्वराज ने कहा कि कांग्रेस का चुनाव प्रचार मुद्दा विहीन होने के कारण अब नौटंकी पर उतर आया है। अखबार के पहले पन्ने पर कैसे फोटो छपे इसके लिए तरह.तरह की नौटंकी कांग्रेस के लोग कर रहे हैं। मंच पर प्रियंका द्वारा सोनिया के गाल पर चिकोटी काटना और राहुल द्वारा विपक्षियों का घोषणा.पत्र फाड़ना इसके उदाहरण हैं। उन्होंने कहा कि जिस काले धन की वापसी के मुद्दे को श्री लालकृष्ण आडवाणी ने 2009 में उठाया था उस पर सीबीआई के निदेशक ने भी आंकड़ा दिया है कि देश का 25 लाख करोड़ रू0 विदेशों में जमा है। दूर संचार में 122 कंपनियों के लाइसेन्स को सर्वोच्च न्यायालय द्वारा निरस्त करने का जवाब कांग्रेस को देना होगा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नौटंकी के बल पर वोट पाना चाहती है। भाजपा के पक्ष में चल रहा अंडर करेन्ट हमारी सरकार बनाएगा।

पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में श्रीमती स्वराज ने कहा कि कांग्रेस के मंत्रियों द्वारा मुस्लिम आरक्षण पर दिए गए बयान मुसलमानों के वोट पाने की छटपटाहट है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री यदि सलमान खुर्शीद का इस्तीफा मांग लेते तो दुबारा कोई चुनाव आयोग के खिलाफ बोलने की हिम्मत नहीं कर पाता। उन्होंने कहा कि सलमान खुर्शीद का केवल मांफी मांग लेना मेरी समझ से पर्याप्त नहीं है। राममंदिर से जुड़े प्रश्न पर श्रीमती स्वराज ने कहा कि यह हमारे लिए निष्ठा का विषय है जो जीवन पर्यन्त रहेगा।

Leave a Reply

Be the First to Comment!

Notify of
avatar
wpDiscuz