महर्षि दयानंद जयंती 17 फरवरी पर विशेष

Posted On by & filed under लेख, शख्सियत

अखिलेश आर्येन्दु दिव्य गुणों से विभूषित महर्षि दयानंद का मानवता को अद्वितीय अवदान महर्षि दयानंद के पास एक दिन एक निराश व्यक्ति आया और बोला-स्वामी जी, मैं सुखी होना चाहता हूं, क्या करूं?’ महर्षि कुछ पल रुके और गम्भीरता से बोले, ‘ हर कार्य को अच्छी तरह से, मन लगाकर, ईश्वर पर भरोसा रखते हुए… Read more »